Friday, September 22, 2017
suneetadhariwal.com
कानाबाती -कानाबाती- कुर्रर्ररररर

Category Archives: कहानी

मसीहा

बस्ती में केन्द्रीय मन्त्री राष्ट्रीय बिरादरी नेता का आगमन मानो उत्सव था। केन्द्रीय मन्त्री नेता जी रामनिवाला ने बस्ती की कायापलट कर बिरादरी में मसीहा का स्थान सुनिशिच्त कर लिया था।सड़क ,बिजली ,पानी,झुग्गी के बदले पक्के मकान,स्कूल सब कुछ मिल गया था बस्ती वालों को।सड़ान्ध भरी बस्ती शहर की लेबर कालोनी का दरजा पा गई थी मन्त्री जी के कारण। ... Read More »

पैर चले आते हैं

अभी कुछ ही दिनों पहले नये घर में आ कर रहने लगे थे हम ,दोपहर को मेरे सोने का वक्त हुआ नहीं कि आंगन में प्रवासी मजदूरो के बच्चों की धमाचौकड़ी शुरू -बात बात में चिल्लाते ,अश्लीलतम गालीयां निकालते खूब हल्ला मचाते ।और आज तो इतना गुस्सा आया कि डराने के लिए डन्डा ले कर ही बाहर निकली -कितनी बार ... Read More »

टिकट

टिकट नंदिनी कानपुर शहर की शालीन प्रतिभाशाली समाज सेवी महिला थी। जिसे पूरे प्रदेशभर में कानपुर की नंदिनी बहन के नाम से लोग पहचानते थे। वह अक्सर सामाजिक आयोजनों में अपने व्याख्यान देने हेतू जाती रहती थी। ऐसे ही एक दिन पास के छोटे से कस्बे के महिला महाविघालय में नंदिनी “महिलाओं के समक्ष राजनैतिक चुनौतियां ” विषय पर अपना ... Read More »

ए री मोलकी

आज गांव जल बेहड़ा की आबोहवा बदली-बदली सी हैं सारे गांव में चर्चा हैं रूल्दू जाट का छोरा राममेहर मोल की बहु ल्याया सै। इसी बात को लेकर गांव में हंसीठठ्ठा व्यंग्य और कहीं-कहीं संजीदा बाते हो रही हैं। मतेरी चमारिन गांव में पानी की टून्टी पर बोल रही थी कि रूल्दू जाट की बहु लक्ष्मी ने मोल की बहु ... Read More »