Saturday, November 18, 2017
suneetadhariwal.com
कानाबाती -कानाबाती- कुर्रर्ररररर

Category Archives: हास्य रंग – डाउन टू अर्थ मौसी

श्रीमती डाउन टू अर्थ मौसी की आपबीती कथा

(भाग -2 -दिनांक 14 सितम्बर 2013,स्थान -कुरूक्षेत्र ,हरि) आज मौसी मन्नै नयूं आपबीती सुणावै थी- ए बेटी के बताऊं मेरे गैल के बणी काहल आपणी बड़ी बेबे के छोरे के ब्याह मैं गई थी अर घोड़ी का बखत था,डीजयां बाजा बाजै था ,कोई भी कोनी नाचै था, मैं सोची अक तौंए सरू कर दे, तेरे देखा देखी और भी नाचण ... Read More »

श्रीमती डाउन टू

श्रीमती डाउन टू अर्थ मौसी की आपबीती मेरा साप्ताहिक सहज हास्य फुहार कालम है डाउन टू अर्थ मौसी सम्बोधन हमारे परिवार में परिवार में कुछ यूं प्रचलित हुआ -अकसर हम आपसी बातचीत में कि फलां व्यक्ति फलां महिला ,फलां रिश्तेदार बड़ा डाउन टू अर्थ है उपयोग करते रहते हैं। मेरी बिटिया इस शब्द से वाकिफ थी एक दिन हम किसी ... Read More »